एंड्राइड क्या है ?- What is Android in Hindi ?

एंड्राइड क्या है ?- What is Android in Hindi ?

आज हम बात करेंगे कि एंड्राइड क्या है. आज हर जगह , हर जुबान पर एंड्राइड का ही नाम है| जहाँ मोबाइल कि बात शुरू हुयी कि जुबान पर एंड्राइड का ही नाम आता है | आखिर एंड्राइड इतना महत्वपूर्ण क्यों है | क्या कारण है कि एंड्राइड इतना पोपुलर हो गया है | आज कि इस पोस्ट के माध्यम से हम एंड्राइड के इन्ही विशेषताओ पर प्रकाश डालेंगे कि एंड्राइड क्या होता है ?

एंड्राइड एक मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम है जो Linux ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित है। इसका विकास गूगल द्वारा किया गया है। एंड्राइड का विकास मुख्य रूप से टच स्क्रीन मोबाइल के लिए  किया गया है जिसे हम आजकल स्मार्टफोन भी कहते हैं। इसका इस्तेमाल टेबलेट कंप्यूटर में भी किया जाता है। आजकल एंड्राइड पर आधारित कार, टीवी कलाई घड़िया और कई तरह के अन्य उपकरण आ रहे हैं । इस ऑपरेटिंग सिस्टम में सब कुछ टच आधारित है जैसे वर्चुअल कि-बोर्ड, स्वीपिंग, टैपिंग, पिंचिंग इत्यादि। इस ऑपरेटिंग सिस्टम में गेम, कैमरा आदि सुविधाये भी बखूबी उपलब्ध है। एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम इस समय सबसे अधिक इन्सटाल्ड ऑपरेटिंग सिस्टम है। हर मोबाइल फ़ोन में लगभग आपको एंड्राइड ही इन्सटाल्ड मिलेगा |

आपने देखा होगा कि Laptop किसी भी  company का हो उसमें सामान्यतया Windows ही इन्सटाल्ड हुयी आती है हालाँकि  Windows के जैसे बहुत सारे और भी software आते है, लेकिन company Windows इसलिये डालती है क्‍योकि विंडोज पे काम करना काफी आसान है और ये आम लोगो को पंसद है और उसके मुताबिक का अभी तक कोई और software आया नही है।

ठीक ऐसे ही Mobile किसी भी company का हो उसमे सामान्यतया  एंड्राइड  system ही इन्सटाल्ड  हुआ आता है। एंड्राइड  को हम Mobile का operating system कहते है। एंड्राइड  इतना लोकप्रिय है कि इसके एक दिन में 15 lack activation होते है।

Raed –  साबुन बनाने का काम साबुन बना कर कमाएं लाखों

एंड्राइड  के लोकप्रिय हाने की एक वजह ये भी  है कि ये दुनिया की सबसे बड़ी company गूगल  का है, और इसको गूगल  की ID द्वारा ही चलाया जाता है, सभी  एंड्राइड  devices पहले से ही गूगल  Search, YouTube, Play Store, Gmail, गूगल  Drive के साथ आते है, और ये सभी Apps एक दूसरे के साथ मिलकर एक ही गूगल  ID से चलती है।

एंड्राइड  को mobile मे डालने के बाद mobile एक Mini computer की तरह बना जाता है – इसी Mini computer का हम smartphone भ्‍ाी कहते है।

Smartphone पर आप लगभग किसी भी तरह की Application चला सकते है। एंड्राइड  Platform के लिये लाखों Apps आती है जिन्‍हें आप Play Store से download कर सकते हो।

ये बाते बनाती हैं एंड्राइड  को खास

एंड्राइड  kya hai ये जानने के बाद चलिए समझते हैं कि एंड्राइड  कि खासियत क्या है ? एंड्राइड  कि खासियत बताने के लिए हमने कुछ बिन्दुओं का उल्लेख लिया है

  1. एंड्राइड को यूज़ करना बेहद आसन है | इसके इंटरफ़ेस को बहुत खास तरीके से डिजाईन किया गया है ताकि हर वर्ग का यूजर इसे आसानी से प्रयोग कर सके
  2. एंड्राइड एक Open Sourse सॉफ्टवेर या ऑपरेटिंग सिस्टम है इसलिए इसकी कास्ट न के बराबर है
  3. एंड्राइड एक फ़ास्ट मतलब काफी तेज़ चलने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है

एंड्राइड  Version क्‍या है ? What is एंड्राइड  Version in Hindi

गूगल  अपने एंड्राइड  के Platform को समय समय पर सुधारता रहता है और उसमें समय के साथ नये नए feature को भी जोड़ता रहता है इसके बाद   Hardware companies जो मोबाइल का हार्डवेयर बनाती हैं उदाहरण के तौर पर MI,  माइक्रोमैक्स,जिओनी, Motorola,  Samsung, HTC ये लोग  एंड्राइड  operating System  ke latest version को अपने mobile पर डाल कर लोगो को mobile sale करती है या बेचती हैं ।

गूगल लगभग हर साल एंड्राइड  का नया version लांच करता  रहता है।इस लिए  दिक्कत ये है कि पुराने mobile पर नये version की updates बहुत कम companies देती है। इसलिये हमें न्यू mobile खरीदते समय हमेशा Latest एंड्राइड  version ही खरीदना बेहतर होता है

निचे दी गयी लिस्ट में हमने एंड्राइड  Operating  System के सारे वर्ज़न के नाम लिखे हैं जिनसे आप एंड्राइड  के सारे वर्ज़न कि सूचना प्राप्त कर सकते हैं | निचे दी हुयी लिस्ट देखिये

  1. Cupcake (1.5)
  2. Donut (1.6)
  3. Eclair (2.0–2.1)
  4. Froyo (2.2–2.2.3)
  5. Gingerbread (2.3–2.3.7)
  6. Honeycomb (3.0–3.2.6)
  7. Ice Cream Sandwich (4.0–4.0.4)
  8. Jelly Bean (4.1–4.3.1)
  9. KitKat (4.4–4.4.4, 4.4W–4.4W.2)
  10. Lollipop (5.0–5.1.1)
  11. Marshmallow (developer preview 3)
  12. Nougat

आप देख सकते है कि किस तरह एंड्राइड  अपने versions को ABCD… Alphabets मे लेकर चल रहा है तो कि  C से शुरू है और M तक पहुँचा है। गूगल  वालाे ने एंड्राइड  के सभी versions के नाम में किसी मिठाई का ही प्रयोग किया है। खबर ये भी थी कि N वाले वर्ज़न का नाम नान-खटाई है और ये नाम गूगल के मुख्य अधिकारी जो कि भारतीय है सुन्दर पिचई ने दिया था | अब ये खबर कहाँ तक सच है कहा नहीं जा सकता |

Read – मोबाईल शॉप कैसे शुरू करें How To Start Mobile Shop

आपकी जानकारी के लिए आप को बता दे कि गूगल ने एंड्राइड का अधिग्रहण १७अगस्त २००५ को किया था |

एंड्राइड  का latest version कौन सा है

एंड्राइड  का जो Latest version चल रहा है वो हैNougat, Marshmallow और Lollipop .

एंड्राइड  ki ओर से आने वाली एंड्राइड Updates वैसे तो Free होती है, लेकिन ये updates उन्‍ही mobiles को support करती है जिनका Hardware updates का सभांल सके। ये updates OTA (Over the Air) होती है, यानि की आप इन updates को बिना service center ले जाये Internet से download करके खुद install कर सकते है।

अगर आपको एंड्राइड  से सम्बंधित हर पोस्ट या अपडेट की जानकारी चाहिए बेहतर हैं कि आप गूगल  Nexus खरीद  लें . आपको बता दें कि गूगल  Nexus एक तरह कि  device है जो गूगल  बाकी hardware companies के साथ मिलकर बनाती है। गूगल के Nexus डिवाइस का  लाभ यह है कि ये original एंड्राइड  version प्रयोग करता है। और इलिलिये इसकी updates बाकी सभी smartphones से पहले मिल जाती है।

मोबाइल खरीदते वक़्त कौन सा एंड्राइड  Mobile खरीदे ?

अगर आप नया mobile लेने जा रहे हे तो उसमे एंड्राइड  5 Lollipop version या उससे ऊपर के ही version को ख़रीदे । साथ ही साथ आप ये भी देख ले कि आप  किस company से mobile ले रहे है, क्‍योकि कुछ दिनाे बाद एंड्राइड  Naught  आने वाला है और कुछ ऐसी कम्पनीज है  अपने mobile पर updates बहुत देर बाद देती है। आप mobile company के customer केयर बात करके updates के बारे मे जानकारी प्राप्‍त कर सकते है। और उसके बाद ही आपके लिए ये निर्णय लेना ठीक रहेगा कि कौन सा एंड्राइड  Mobile खरीदे ?

तो दोस्तों ये थी जानकारी एंड्राइड के बारे में कि एंड्राइड  क्या है और एंड्राइड  इतना खास क्यों है | सच में एंड्राइड  पे काम करना काफी आसान और सहज है और इसी सहजता ने एंड्राइड  को शिखर पर पहुचाया है | हम उम्मीद करते हैं कि आपको ये पोस्ट पसंद आई होगी (एंड्राइड  Kya hai) | बाकि अपडेटेड खबरों और नॉलेज के लिए लगातार विजिट करते रहे

 

Pappu Bandod

मेरा नाम पप्पू बन्डोड मुझे हमेशा से ही कुछ ना कुछ नया करने की आदत है जब भी में अकेला होता हु तब तब में एक कुछ नए चीज का निर्माण जरुर कर देता हु मेरा मतलब ये है की में हमेशा नये विचार से कुछ न कुछ तैयार करता हु और उस विचार को में लिख लेता हु इसी लिए में यह वेबसाइट बनाई ताकि जब भी में कुछ नया सिखु तो में औरो को भी सीखा सकू अपने विचरो से अपने भवनों से धन्यवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *